Satta King Fast | Satta King Chart Top Secret

Satta King Fast | Satta King Chart – सट्टा किंग फ़ास्ट भारत में एक प्रकार का लॉटरी गेम है। यह गेम भारत में प्रतिदिन लकी टिकट के आधार खेली जाती है। इस Satta King Fast | Satta King Chart में कई लाख लोग अधिक धनराशि या पुरस्कार जीतने के लिए लॉटरी खरीदते हैं। सट्टा किंग फ़ास्ट (Satta King Fast) लॉटरी का सबसे अधिक खेला जाने वाला खेल है।

Satta King Fast
9.3
Top Earning
सट्टा किंग फ़ास्ट – किंग चार्ट
POSITIVES
  • इस खेल में सबसे अधिक मुनाफा है
  • रातों-रात करोड़पति बन सकते हैं
  • यह आपको जल्दी अमीर बना देगा
  • एजेंटो द्वारा ईमानदारी से भुगतान
  • इस खेल से गणितिय क्षमता बढ़ जाती है
NEGATIVES
  • यह गैर कानूनी की श्रेणी में आता है
  • यह खेल में जोखिम है
  • खेलते हुए पकड़े जाने पर सजा हो सकती है
  • आपको इस खेल की लत लग सकती है

Satta King Fast | Satta King Chart

सट्टा किंग फ़ास्ट (Satta King Fast | Satta King Chart) एक तरह का जुआ का खेल है, इसे आप जुआ का राजा (Satta King Fast) भी कह सकते हैं क्योंकि इसमें बड़े पैमाने पर जुआ खेला जाता है। हालांकि भारत में किसी भी तरह का जुआ गैरकानूनी है लेकिन इसके बावजूद Satta King Fast | Satta King Chart भारत में बड़े पैमाने पर खेला जाता है। इस खेल को कानून की नजरों से बचकर खेला जाता है। सट्टा किंग फ़ास्ट में रिस्क ज्यादा होता है लेकिन उससे अधिक फायदा भी होता है जिसके कारण अधिकांश लोग इसे खेलते हैं।

Satta King Fast कैसे खेला जाता है?

भारत में सट्टा किंग फ़ास्ट (Satta King Fast) आजादी से पहले से खेला जाता है। इस खेल को कई अलग-अलग नाम से भी जाना जाता है जैसे सट्टा किंग, सट्टा मटका इत्यादि। पुराने ज़माने में सट्टा खेल पारंपारिक तरीके से खेला जाता था। पुराने ज़माने के समय में मटके के अंदर पर्चियां डाली जाती थी और उसमें से नंबर चुना जाता था। इस खेल में मटके के प्रयोग के कारण आज भी सट्टा मटका कहा जाता है। आज टेक्नोलॉजी के बढ़ते प्रभाव के कारण इस खेल को ऑनलाइन माध्यम से भी खेला जाने लगा है।

आज अधिकतर सट्टा खेल को ऑनलाइन रुप से खेला जाता है। यह खेल कई वेबसाइट और ऐप के द्वारा खेला जा सकता है। आपको बता दे की सट्टा खेलना भारत में मान्य नहीं है और यह गैर कानूनी है। इस खेल को लाखों लोग चोरी-छिपे प्रतिदिन खेलते हैं और लाखों रूपये जीतते भी है।

सट्टा किंग फ़ास्ट (Satta King Fast) खेलने वाले को अपना नंबर का चुनना होता है और उस नंबर पर कुछ पैसे लगानी होती है। अगर आपका लगाया हुआ नंबर सही है तो आप जित जाएंगे। जो खिलाड़ी खेल जीतता है उसे Satta King कहा जाता है।

सट्टा किंग फ़ास्ट खेलने का तरीका
  • अगर आप ऑनलाइन माध्यम से खेल रहे है तो आपके पास वेबसाइट का पता होना चाहिए।
  • खेल खेलते समय इसे गुप्त रखे, क्योंकि यह खेल वैध्य नहीं है।
  • इस खेल से सम्बंधित विभिन्न साईट हैं, आपको अपने पसंदीदा साईट पर जाना है।
  • जैसे सट्टा किंग फ़ास्ट वेबसाइट।
  • इस साईट पर अलग-अलग खेल का नाम दिखाई देगा, आपको अपने खेल के नाम पर जाना है।
Satta King Fast
10
Satta King Fast | Satta King Chart Top Secret

ऑनलाइन सट्टा किंग फ़ास्ट Online

सट्टा किंग फ़ास्ट खेलने वाले खिलाड़ी को अपना नंबर का चुनना होता है और उस नंबर पर कुछ पैसे लगानी होती है।
इस खेल में जोखिम शामिल है कृपया अपने रिस्क पर खेले हमारी कोई जवाबदारी नहीं होगी

Satta King Chart कैसे देखे

सट्टा किंग चार्ट (Satta King Chart) को देखने के लिए निचे कुछ चरण बताये गए हैं जिसके माध्यम से आप अपना सट्टा किंग चार्ट (Satta King Chart) को देख सकते हैं।

  • सम्बंधित खेल की वेबसाइट पर जाये।
  • उदाहरण के लिए मुझे सट्टा किंग फ़ास्ट पर चार्ट देखना है।
  • मुख्य वेबसाइट पर जाने के बाद खेल के नाम के निचे रिकॉर्ड चार्ट पर क्लिक करे।
10
Satta King Fast | Satta King Chart Top Secret

ऑनलाइन सट्टा किंग चार्ट Online

ऑनलाइन सट्टा किंग चार्ट देखने के लिए दिए गए लिंक पर जाकर अपना नंबर चेक करें।
इस खेल में जोखिम शामिल है कृपया अपने रिस्क पर खेले हमारी कोई जवाबदारी नहीं होगी
Satta King Fast
  • रिकॉर्ड चार्ट पर क्लिक करने पर आपके सामने एक चार्ट खुलेगा।
Satta King Fast
  • इस चार्ट से आप अपना नंबर का मिलान कर सकते हैं।
  • अगर आपका नंबर दिए गए नंबर से मिलान हो जाता है तो आप खेल जित जाएंगे।

सट्टा खेल वेबसाइट और ऐप

सट्टा किंग फ़ास्ट (Satta King Fast) खेलने के लिए टिप्स और जानकारी प्रदान करने के लिए कई ऐप और वेबसाइट हैं, इन साईट पर सट्टा खेल के परिमाण (Satta King Chart) भी लाइव देख सकते हैं। इन वेबसाइट में सट्टा खिलाने वालो के सट्टा नंबर जुड़े रहते है, जैसे आज का जो सट्टा नंबर है वो साईट पर दिखाया जाता है। इन साईट पर प्रत्येक खेल की टाइमिंग लिखी होती है जैसे वो कब से कब तक खुलेगा और क्या नतीजा आ सकता है आदि। इसके अलावा कई सट्टा एक्सपर्ट भी रहते है जो नतीजों का अनुमान लगाने कार्य करते है।

सट्टा मटका खेल में मुनाफा

इस सट्टा मटका खेल सट्टा किंग फ़ास्ट में जोखिम के साथ-साथ मुनाफा भी बहुत अधिक होता है। इस गेम में अगर कोई कहता है आपको 1 का 4 मिलेगा तो इसका अर्थ होता है – अगर आप 100 रूपये लगायेंगे तो जितने पर 400 रूपये मिलेगा। इस खेल में 100 गुना तक मुनाफा मिल सकता है जो समय के खेल के साथ बदलता रहता है। यही मुख्य वजह है कि लोग इसे ज्यादा खेलते है क्योंकि मुनाफा बहुत अधिक होता है और आप एक दिन में लखपति बन सकते हैं।

सट्टा मटका का इतिहास

सट्टा मटका खेल की शुरुआत रतन खत्री ने की थी। उन्हें सट्टा मटका किंग कहा जाता है। रतन ने 70 के दशक में इस खेल को जन्म दिया था। शुरुआती दौर में इस खेल को लोगों ने बहुत पसंद किया परन्तु कुछ समय के पश्चात इसे खेलने वालों की संख्या में कम होने लग गयी। सट्टा मटका में खेल के परिणाम का इंतज़ार करना पड़ता था और खेल को खेलने में अधिक दिमाग लगाना पड़ता था।

इसे भी पढ़ेMeri Umar Kya Hai | मेरी उम्र क्या है? अपनी उम्र पता करने का तरीका

भारत देश में जुआ को एक लत माना जाता है. और जहा लत शब्द को ही बुरा माना जाए वहाँ भला जुआ जैसे खेल ज्यादा विकसित नहीं होते थे। इस तरह के खेल में दिमाग का प्रयोग ज्यादा होता था और जो व्यक्ति गणित में अच्छा होता था वही इस खेल को अच्छे तरीके से समझ सकता था और अधिक मुनाफा कमाता था।

जुआ अधिनियम 1867
भारत के कई राज्यों में कुछ खेलों पर पैसा लगाने की छूट दी गई है, जैसे गोवा में Casino वैद्य है। अंग्रेजो के समय द्वारा पारित जुआ कानून 1867, जोकि सार्वजनिक जुआ अधिनियम है जिसके अनुसार कोई भी व्यक्ति न जुआ खेले और न ही जुआ खिलाये।

सट्टा मटका दिमाग का खेल

जुआ को भाग्य का खेल माना जाता है परन्तु सट्टा मटका भाग्य के साथ दिमाग का खेल है। अगर आपके पास अनुमान लगाने का अनुभव हैं और आंकड़ों एवं अंको के बेहतरीन तालमेल को समझ सकते हैं तो सट्टा मटका खेल आपको रातों रात अमीर बना सकता है। रतन खत्री इस खेल के निर्माता माने जाते हैं जिन्होंने इस खेल से करोड़ों रुपये का मुनाफा कमाया।

आपको सट्टा मटका (Satta King Fast) गेम खेलने के लिए अपनी बुद्धिमत्ता का प्रयोग करना पड़ेगा. इस खेल को खेलते के लिए अंको का चालाकी से चुनाव करना होगा जिससे जीतने के अधिक से अधिक होगी। आपको बता दे की सट्टा या जुवा का कोई भी खेल भारत मे पूर्णतः प्रतिबंधित है. अगर आप किसी भी सट्टा मटका खेल को खेलते हुए पाए गए तो आपके ऊपर कार्यवाही हो सकती है।

सट्टा मटका में प्रयोग होने वाले शब्द

शब्दअर्थ
मटकाप्राचीन काल में पर्ची डालने के लिए प्रयोग होने वाला पात्र
जोड़ी/पेयर0-9 के बीच की कोई भी संख्या
पत्ती/पन्ना00-99 के बीच की कोई भी संंख्या
ओपन रिजल्ट/क्लोज रिजल्टतीन नंबरों की संख्या
बेरिजमटका जुएं का नतीजा
सिंगलजोड़ी के कुल जमा के अंतिम अंक
1 अंक22 पत्ती
कुल पत्ती की संख्या220 (10*22 = 220)

सट्टा मटका में नंबर को समझना

यह खेल में ताश के पत्तों को नाम से नहीं बल्कि एक नम्बर से पहचाना जाता है। इसमें 1 से 0 तक कुल 10 पत्ते का प्रयोग किया जाता है। किसी भी नंबर में 5 मिलाने से उस नंबर का उल्टा नंबर या कट (Opposite) प्राप्त कर सकते हैं।

अंकउलट अंक (Opposite)
16
27
38
49
50
  • इस खेल में उलट अंक (Opposite) का बहुत महत्व होता है।
  • Opposite अर्थात उलट अंक को कट अंक भी कहते है।
  • कट अंक के प्रयोग से संचालकों को गणीतिय आंकलन करने पर आसानी होती है।

इस खेल में ताश के पत्तों को उनके नाम से नहीं बल्कि नम्बर से पहचाना जाता है। इसमें 1-0 तक कुल 10 पत्ते होते हैं जो निचे दिया गया है।

  • एक्का – 1
  • दुक्की – 2
  • तिक्की – 3
  • चौका – 4
  • पंजा – 5
  • छक्का – 6
  • सत्ता – 7
  • अट्टा – 8
  • नहला – 9
  • दहला – 0

सट्टा मटका रिजल्ट | Satta King Chart

 निचे हमने Satta King Chart या रिजल्ट देखने का तरीका बताया है। जैसे मान लीजिए आज का मटका का अंक 680-40-190 है तो यह अंक तीन हिस्सों को दर्शाता है जो इस प्रकार है:

  • 680 – ताश के पत्ते है छक्का, अट्टा और दहला
  • 190 – ताश के पत्ते है इक्का, नहला और दहला
  • 40 – यह नंबर एक प्रकार का सेट है जिसे दोनों नंबर को जोड़ कर बनाया जाता है।
  • जैसे 6+8+0 = 14, तो इसमें से दूसरा अंक 4 लिया जाता है और फिर 1+9+0 = 10, इसमें से भी दूसरा अंक 0 लिया जाता है। इस प्रकार तीसरा अंक का सेट को पहले दो सेट से लिया जाता है। यहाँ पर तीसरा सेट 40 है।

सट्टा मटका किस माध्यम से खेला जा सकता है?

सट्टा मटका को दो माध्यम से खेला जा सकता है, यह निम्न है :

  1. ऑफलाइन माध्यम से
  2. ऑनलाइन माध्यम से

ऑनलाइन माध्यम से – बढ़ते डिजिटलीकरण के कारण आज सब क्षेत्र ऑनलाइन हो चुका है इसमें सट्टा मार्केट भी शामिल है। अब मटके के मालिक खुद की वेबसाइट और एप के जरिये ऑनलाइन मटका खिलाते हैं। ऑनलाइन सट्टा मटका में आपको एजेंट की वेबसाइट या एप पर जाकर भुगतान और अपना नंबर का चयन करना होता है। जितने के बाद जित की राशि भी ऑनलाइन भेज दी जाती है।

ऑफलाइन माध्यम से – डिजिटलीकरण तथा कानूनी पचेड़ो से बचने के लिए अब अधिकांश सट्टा मटका ऑनलाइन हो चुका है। ऑनलाइन होने से अब वे आसानी से पुलिस की गिरफ्त में नहीं आते हैं और मालिक का नाम भी उजागर नहीं होता है। लेकिन कई मटके अभी भी ऑफलाइन माध्यम से खेल खिलाते हैं। सट्टा मटका की शुरुआत मुम्बई शहर से हुई थी इसीलिए ऑफलाइन या ऑनलाइन दोनों तरह के सट्टा मटका खेल का केंद्र मुंबई है। ऑफलाइन Satta King Fast में 1 से लेकर 99 तक के नंबर चुने जाते हैं। इसके बाद आपको रकम अदा करनी होती है। आपका एजेंट आपके चयनित नम्बर का टिकट देगा।

कौन था मटका किंग रतन खत्री

सन 1947 में विभाजन के बाद पकिस्तान से मुंबई आया था रतन खत्री, यह सिंधी परिवार से थे। 60 के दशक में वह मटका जुआ के कारोबार में उतरा। कुछ साल तक वह इस अवैध धंधे के तिकड़म को सीखता रहा फिर कल्याण भगत जी के साथ मटका जुआ के कारोबार में काम किया। रतन खत्री ही वह आदमी थे जिसने सट्टा मटका जैसे अवैध धंधे को मुंबई के अलावा कई अन्य देश में फैलाया था।

इसे भी पढ़ेFree Fire Redeem Code Today: फ्री फायर आज का रिडीम कोड

गंभीर अपराध की श्रेणी में आने वाला यह खेल सन 1962 तक मुंबई की जनता को पता था। पुलिस भी इस खेल पर लगाम कसने के लिए छापेमारी करती रहती थी लेकिन यह अवैध खेल फलता-फूलता रहा। मूल रूप से गुजरात के कल्याण भगत जी मुंबई शहर का पहला मटका किंग था। वहीं, रतन खत्री के मैनेजर के रूप में काम किया करते थे। कुछ सालों बाद किसी आपसी मतभेद के कारण दोनों अलग हो गए और रतन खत्री ने खुद का सट्टा मटका जुआ शुरू किया।

रतन खत्री को लोग अब मटका किंग के नाम से जानने लगे थे तो वहीं सरकार और पुलिस की नजर इस अवैध कारोबार पर थी। खत्री को आपातकाल के समय जेल में 19 महीनों के लिए बंद कर दिया गया था। जेल में रहने की वजह से उन्हें बहुत नुकसान हुआ और उन्होंने फिर से कुछ दिनों में ही इसे से स्थापित कर लिया।

लम्बे समय तक इस खेल में बादशाहत करने के बाद रतन खत्री ने 90 के दशक में मटके के कारोबार को बंद कर दिया। वही उनके नजदिकी लोगो का कहना है की कारोबार बंद करने के बाद उन्होंने बॉलीवुड के कई फिल्मों में पैसा लगाया। वर्ष 2020 में रतन खत्री उर्फ मटका किंग की 88 वर्ष की उम्र में कोरोना (COVID-19) के कारण मौत हो गई।

रतन मटका की शुरुआत: कल्याण भगत जी से अलग होने के बाद रतन खत्री ने “रतन मटका” नाम से इस अवैध खेल को शुरू किया। उसने अपने इस खेल से मटके में पर्ची डालने का काम ख़त्म कर नए तरीके का इस्तेमाल किया। इसका फायदा भी रतन खत्री को मिला।

सट्टा मटका के नकारात्मक प्रभाव

सट्टा मटका (Satta King Fast) खेल से आप मालामाल तो हो सकते हैं, लेकिन यह खेल खतरों से भरा हुआ होता है। क्योंकि Satta King Fast खेलते हुए पकड़े जाने पर आपको सजा या जुर्माना या दोनों हो सकती है। इस खेल के कुछ नकारात्मक प्रभाव निचे दिए गए हैं:

  • सट्टा मटका एक जुआ है और साथ ही साथ यह अवैध खेल है। इस खेल को लगातार खेलने से आपको इसकी लत (आदत ) पड़ सकती हैं।
  • इस खेल को प्रतिदिन खेलने से रोज आपकी जीत नहीं होगी अगर आपने जो नंबर लगाया है वह मिलान हो जाता है तभी आप जीतेंगे।
  • लग लगने की वजह से आप अपना सब कुछ हार सकते हैं। क्योंकि जीत की आशा के कारण आप इस खेल को खेलते जाएंगे।
  • सट्टा मटका खेल खेलने से सामाजिक प्रतिष्ठा में कमी होती है जैसे लोग हमे जुआरी या सटोरी कहने लगते हैं।
  • यह खेल खेलने के बाद हम परिश्रम करना छोड़ देते हैं और इस प्रकार हमारा क्षय होने लगता है।
  • सट्टा मटका खेल को खेलने की वजह से हमारा भविष्य खतरे में पड़ जाता है।
अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल (FAQs)

सट्टा मटका किंग के नाम से किसे जाना जाता है?

रतन खत्री को सट्टा मटका किंग के नाम से जाना जाता है। इन्होने ही रतन मटका नाम के सट्टा खेल की शुरुआत की थी।

कट (Cut) अंक किसे कहते हैं?

उलट अंक को ही ही कट अंक कहा जाता है। जैसे अंक 1 का कट अंक (Opposite) 6 होता है।

सट्टा किंग का मुख्यालय कहाँ है?

सट्टा मटका का मुख्यालय मध्य मुंबई है। अधिकतर मटके मुम्बई से ही संचालित किए जाते हैं। इसके अलावा कानपुर, नई दिल्ली, फरीदाबाद में भी इनके ऑफिस हैं।

Kalyan Satta Matka कौन चलाता है?

कल्याण सट्टा मटका की शुरुआत कल्याण भगत जी ने की थी। उन्होंने ही कल्याण मटका का आरंभ किया था। लेकिम वर्तमान में कई मटका है जिनके विभिन्न मालिक हैं। कानूनी अटकलों में न पड़ने के लिए आजकल मटका के मालिक अपना नाम जाहिर नहीं करते हैं वे अपना अपना व पता छिपा कर रखते है, लेकिन उनके ऐजेंट को पता रहता है कि मालिक कौन है।

मटका किंग रतन खत्री की मृत्यु कब हुई?

मटका किंग रतन खत्री की मृत्यु सन 2020 में कोरोना महामारी के कारण हुई।

इस पोस्ट को लिखने का उद्देश्य सिर्फ सट्टा मटका के बारे में जानकारी प्रदान करना है। हम किसी भी तरह से सट्टा मटका या ऐसे किसी भी गेम जो क़ानूनी रूप से प्रतिबंधित है, उसका समर्थन नहीं करते है। और न ही ऐसे खेल खेलने की आपको सलाह देते है। यदि आपको हमारे द्वारा प्रदान किसी भी जानकारी से शिकायत है तो आप हमसे सम्पर्क कर सकते हैं।

इस पोस्ट में हमने विस्तार से Satta King Fast | Satta King Chart क्या है और कैसे खेला जाता है इसकी पूरी जानकारी प्रदान की की है। यह एक ऐसा खेल है जिसके माध्यम से आप रातों रात लखपति बन सकते हैं क्योंकि इसमें जोखिम के साथ-साथ कमाई भी बहुत अधिक होता है। ध्यान रहे सट्टा खेलना गैर-कानूनी है और आपको इस खेल की लत लग सकती है।

Study Discuss

प्रतियोगी परीक्षा एवं बोर्ड कक्षाओं की मुफ्त ऑनलाइन स्टडी मटेरियल। हिंदी, अंग्रेजी व्याकरण और कंप्यूटर विषय की सम्पूर्ण जानकारी निःशुल्क में एक्सेस करे।

Study Discuss
Logo
Enable registration in settings - general